Affiliated to V.B.S. Purvanchal University, Jaunpur
राष्ट्रीय सेवा योजना
 

महाविधालय में रा0 से0 यो0 इकार्इ का गठन सत्र 1977-78 में किया गया। विश्वविधालय प्रशासन द्वारा महाविधालय को 50 छात्रछात्राओं के नामांकन हेतु एक इकार्इ आबंटित की गयी। सर्वप्रथम इस इकार्इ के कार्यक्रम अधिकारी के रूप में डा0 उदय शंकर तिवारी विभागाध्यक्ष भौतिकी विभाग का नियुक्त किया गया। रा0 से0 यो0 में नामांकित 37 स्वयं सेवकस्वयं सेविकाओं को लेकर प्रथम दस दिवसीय विशेष शिविर 13-03-1978 से 22-03-1978 तक खालिसपुर खुर्द गाव में आयोजित किया गया। ततपश्चात सत्र 1983-84 तक कार्यक्रम अधिकारी पद पर कार्य करते हुये विभिन्न ग्रामों पराउगंज बावनबीघा वाराणसी वनदेवी आजमगढ खालिसपुर खुर्द में विशेष शिविर का आयोजन किया। गावों में नालियों गलियों की साफ- सफार्इ के अलावा साक्षरता जनजागरण का भी कार्य स्वयं सेवकस्वयं सेविकाओं ने किया। उनके कार्यकाल में सत्र 25-03-1984 से 03-04-1985 तक विशेष शिविर के दौरान विशेष उपलबिध खालिसपुर खुर्द में महाविधालय के पीछे तालाब निर्माण व उसके किनारे वृक्षारोपण की रही जो आज भी जीवन्त है। ततपश्चात महाविधालय को 100-100 छात्रों की दो इकार्इया तथा सत्र 1988-89 में तीन इकार्इया प्रदान की गयी ।

वर्तमान में भी महाविधालय में रा0 से0 यो0 की तीन इकार्इया कार्यरत हैं। डा0 तिवारी के बाद डा0 राम अकबाल मिश्र डा0 जगत नारायण त्रिपाठी डा0 सुरेश चन्द्र बरनवाल डा0 रमापति त्रिपाठी डा0 राम नारायण मिश्र डा0 चन्द्रबली पाल डा0 कृष्णदेव चौबे डा0 रमेश चन्द्र दुबे डा0 विजय नारायण पाण्डेय डा0 हृदयबली चतुर्वेदी डा0 नागेन्द्र प्रसाद दुबे डा0 अमरेश कुमार आदि विभिन्न सत्रों में कार्यक्रम अधिकारी पद पर रहे। हर सत्र में कार्यक्रम अधिकारियों के निर्देशन में स्वयं सेवकस्वयं सेविकाओं के माध्यम से वृक्षारोपण कार्यक्रम कराया जाता रहा है। इसी क्रम में सत्र 1997-98 में वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डा0 तेज सिंह पाल व डा0 अमरेश कुमार द्वारा सागौन का वृक्षारोपण महाविधालय प्रांगण में कराया गया जो कि साक्षात प्रमाण के रूप में महाविधालय को सुशोभित कर रहे हैं। वर्तमान में वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी के रूप में डा0 तेज सिंह पाल व कार्यक्रम अधिकारी द्वय डा0 चित्रसेन गुप्त एवं डा0 नीता तिवारी रा0 से0 यो0 के स्वयं सेवकस्वयं सेविकाओं का निर्देशन कर रहे हैं।

कुटीर संस्थान के संस्थापक श्रद्धेय पं0 अभयजीत दुबेजी की प्रथम पुण्य तिथि के अवसर पर कारगिल क्षेत्र में मातृभूमि के रक्षार्थ घायल वीर सैनिकों के उपचारार्थ महाविधालय रा0 से0 यो0 इकार्इयों के सौजन्य से दिनांक 13-09-1999 को रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया जिसमें सर्वप्रथम भूतपूर्व प्राचार्य प्रो0 श्याम नारायण मिश्र जी नें रक्तदान करके शिविर का उदघाटन किया। महाविधालय के अध्यापकों कर्मचारियों सहित स्वयं सेवक एवं स्वयं सेविकाओं नें रक्तदान तिथि से पूर्व संकल्प पत्र भरकर निर्धारित तिथि को रक्तदान करने का सराहनीय प्रयास किया। इसके अतिरिक्त महाविधालय के वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डा0 तेज सिंह पाल द्वारा कुलपति वीर बहादुर सिंह विश्वविधालय के दिशा निर्देशन में संचालित बापू बाजार में निर्धनों के सहायतार्थ सक्रिय योगदान दिया गया।